#अरुण जेटली #का लल्लनटॉप धमाका:पेट्रोल डीज़ल हुवा सस्ता

मुंबई tyohartop.com|                                                                                                          अरुण जेटली ने आज  पेट्रोल डीज़ल के रेट  पर लल्लनटॉप घोषणा  की है,सरकार जो है पेट्रोल और डीजल का रेट जो बढ़ रहा था   उस  पर  दिन पर दिन घिरती जा रही थी ऐसे में  सरकार को लल्लनटॉप   फैसला लेना ही था और आज अरुण जेटली साहब के द्वारा पेट्रोल और डीज़ल के भाव में 2.50 रुपया का कटौती करने का एलान कर दिया है.सरकार का आने वाले लोकसभा चुनाव से देखा जा रहा है

बीजेपी का लल्लनटॉप दांव                                                                                                                                                                                                                                                                      बीजेपी ने देखा जाये तो 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए ही ये फैसला लिया है,क्यों की जेटली साहब ने 2.50 पैसा कटौती का एलान करने के साथ ही राज्यों से भी आग्रह किया है की वे भी अपने राज्यों में 2.50 रुपया कम करे इस तरह बीजेपी ने एक लल्लनटॉप दांव चल दिया है.और इसका असर भी देखने को मिला,वित्तमंत्री के इस एलान के बाद 12 बीजेपी शासित राज्यों ने 2.50 रुपये की कटौती भी कर लिया है इस तरह इस लल्लनटॉप फैसले ने  पब्लिक को रहत देने का  काम किया है                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                            इससे  पहले  वित्त मंत्री ने एक प्रेस कांफ्रेस कर कर शेयर बाज़ार और पेट्रोल डीज़ल की कीमतों पर पूर्ण रूप से अपनी बात रखी.इस कटौती में वित्त मंत्री ने सीधे तौर पर कहा की रेवन्यू बिभाग को 1.50 रुपये और omc को एक रुपये वहन करना होगा.आपको बता दे पिछले काफी टाइम से तेल की बढती कीमतों से पुरे भारत की पब्लिक परेशान थी और अब ये लल्लनटॉप फैसला काफी राहत देने वाला है

वित्त मंत्री ने कहा की ये फैसला आम जनता के लिए लिया गया है लेकिन इस फैसले से सरकार के खजाने पर 10,500 करोड़ का बोझ बढ़ जायेगा वही जेटली ने बोला हमने घटाया पैसा अब राज्य भी इसमें कटौती करे.

जेटली ने कहा सरकार तभी कोई छूट दे सकती है जब राजस्व की क्षमता बढती है उन्होंने कहा हम रेवेन्यु बिभाग के जरिये कंज्यूमर को रिलीफ देने का काम तीन हिस्सों में बाटकर करेंगे.

जेटली ने बताया की हम राज्यों से बात करेंगे हम 2.50 रुपये कटौती करने को कहेंगे और राज्यों को भी 2.50 रुपये कटौती करने को कहेंगे यह काम राज्यों के लिए आसान है वित्तमंत्री ने कहा राज्य सरकारों का एडवैलोरम टैक्स ज्यादा है राज्यों का औसत 29% है इसलिए कच्चा तेल बढ़ने पर राज्यों को इसका सबसे ज्यादा फायदा होता है जबकि केंद्र की कमाई इनके मुकाबले काफी कम होती है यानि स्थिर रहती है.

वित्तमंत्री ने कहा की हम तेल कंपनियों को 10 बिलियन डालर विदेशी आयल बांड के जरिये उठाने की अनुमति दी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *