UP BOARD TIMETABLE 2019|यूपी बोर्ड का 10वी और 12 वी का टाईमटेबल जारी,यहाँ पर आप देखे

मुंबई!TYOHARTOP.COM|यूपी बोर्ड के की परीक्षा इस बार बहुत ही जल्दी करने का निर्णय लिया गया है,इसके लिए सारी तैयारिया भी हो गई है इस बार छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुए ये निर्णय लिया गया है सुबह पाली की परीक्षाये पहले जो 7:30 बजे होती थी अब 8 बजे से शुरू होगी और समापन 11:15 को होगा,और दूसरी पाली की परीक्षा का समय दोपहर बाद 2:00 से 5:15 तक रहेगा

प्रतीकात्मक तस्वीर सौजन्य (गूगल )
UP BOARD EXAM 2019 का जो टाईमटेबल तय किया गया है इसमें सार्वजनिक छुट्टियों के साथ विशेष तौर पर कुम्भ का ख्याल रखा गया है इस बार की परीक्षा में नकलचियो में लगाम कसने के लिए एक खास तरह की तकनिकी अपनाई गई है,इस बार परीक्षार्थीयों के पंजीकरण को आधार कार्ड से लिंक किया जा रहा है!ताकि हर किसी परीक्षार्थी पर नजर रखा जा सके,इलेक्ट्रॉनिक,डिवाइस किताबो पर प्रतिबन्ध रहेगा.

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा इंटर और हाईस्कूल की होने वाली परीक्षा का एग्जाम सेण्टर का चुनाव ऑनलाइन किया जायेगा मुख्यमंत्री ने कहा ऐसे स्कूल को एग्जामसेंटर नहीं बनाया जायेगा जहा 3 साल से कोई परीक्षा नहीं हुई है!यूपी बोर्ड के एग्जाम सेंटर पर मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की जाएगी,और क्लास रूम बेहतरीन कैमरे की ब्यवस्था की जाएगी और बेहतरीन आडिओ रिकॉर्डर से भी एग्जाम हाल लैस होगा| इंटर और हाईस्कूल एग्जाम 2019 टाइम टेबल

सौजन्य (TWITER)
HIGHSCHOOL AND INTERMIDIATE TIME TABLE 2019
सौजन्य (TWITER)
HIGHSCHOOL AND INTER EXAM 2019 TIMETABLE

विश्वकर्मा पूजा 17 सितम्बर,पूजन बिधि सामग्री शुभ मुहूर्त,इस मंत्र का करे जाप,VISHWAKARMA POOJA BIDHI MANTRA SAMGRI 2018 17 SEPTEMBER.

VISHWAKARMA BHAGWAN
मुंबई TYOHARTOP.COM| विश्वकर्मा पूजा 17 सितम्बर को बड़े हो हर्षोउलास के साथ मनाया जाता है इस दिन लोग भगवान् विश्वकर्मा की पूजा करते है हिन्दू धर्म में विश्वकर्मा को देवताओ का शिल्पकार माना जाता है,इस दिन लोग अपने औजारों तथा गाडियों की पूजा करते है तथा प्रसाद बाटते है,विशकर्मा पूजा पुरे देश में बड़े ही उत्साह के साथ मनाई जाती है,इन्हें जो है दुनिया का पहला वास्तुकार कहा जाता है! इस दिन जो है लोग अपने कारखानों में कल पुर्जे औजारों को एक स्थान पर रखकर बिधि बिधान से पूजा करते है पौराणिक कथाओ के अनुसार दुनिया में हर चीज़ का निर्माण भगवान् विश्वकर्मा ने किया था इनमे से प्रमुख द्वारिका, सोने की लंका,स्वर्गलोक इन सब का निर्माण विश्वकर्मा ने ही किया था १७ सितम्बर को शिल्पकार मिस्त्री वेल्डर पेशे के लोग धूमधाम से करते है|मान्यता है की विश्वकर्मा पूजा के दिन बिधिपूर्वक पूजा करने से सुख समृधि धन धान्य की कोई कमी नहीं रहती,इस पूजा से ब्यक्ति के ब्यापार में बढ़ोतरी होती है सभी मनोकामना पूर्ण होती है पूजन बिधि इस दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान कर के साफ सुथरे कपडे पहन के पूजा स्थल पर भगवान् विश्वकर्मा की पूजा की जाती है भगवन की प्रतिमा पर माला चढ़ाए,इसके बाद धुप दीपक चढ़ा कर अपने औजारों की पूजा करे,प्रसाद का भोग लगाये| अंत में हाथ में फूल लेकर भगवान् विश्वकर्मा का ध्यान लगाये.इसके बाद अक्षत को चारो तरफ छिड़क दे और फूल को जल में छोड़ दे|हाथ में कलावा जरुर बाध ले!साफ जमीन पर अष्टदल कमल बनाये और उस पर जल डाले,इसके बाद पंचपल्लव,सुपारी, सप्त् मृन्तिका ,कलश में डालकर कपडे से कलश की तरफ अक्षत चढ़ाये,अपने यंत्रो पर भी यही बिधि करे तथा शुद्धिकरण के लिए हवन करे पूजा मुहूर्त 7:01 AM मंत्र ॐ आधार शक्त्पे नमः और ॐ कुमयि नमः ॐ अननतम नमः,ॐ प्रिथ्बये नमः

मुंबई के एक डॉक्टर का बड़ा खुलासा.दिल की बीमारी का तार कान की गंदगी से जुड़ा.

फोटो साभार google मुंबईtyohartop.com| आज कल लोगो में फ़ास्ट फ़ूड का काफी चलन हो गया है जिससे लोगो को ज्यादा कोलेस्ट्राल की बजह से हार्ट में कई जगह ब्लोकेज हो जाती है जो काफी खतरनाक होती है हमारे लिए,लेकिन ठहरिये अभी तो हम लोग समझ रहे थे की ज्यादा कोलेस्ट्राल की बजह से हार्ट की बीमारी होती है पर पर मुंबई के ही एक डॉक्टर ने बड़ा खुलासा किया है जी हा मुंबई के डॉक्टर हिम्मतराव बवास्कर ने लगभग 888 ऐसे रोगियों पर शोध किया है,जो मधुमेह और उच्च रक्तताप की बीमारी से पीड़ित थे!इस शोध में उन्होंने पाया की 95 फीसदी यानि लगभग 510 रोगियों की कान में गंदगी भरे हुए थे.
भारत में एक रिपोर्ट के अनुसार हर साल लगभग 17 लाख लोग दिल की बीमारी की बजह से मौत के मुह में चले जाते है,इसी बीच यह चौकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है,यानि इस शोध के मुताबिक 95 फीसदी लोग जिनकी कान में गंदगी भरी होती है या कान की बीमारी होती है वे लोग हार्ट के मरीज होते है

हलाकि 60 -70 की उम्र में कान में गंदगी पाना एक आम बात है और उनमे हार्ट रोग का खतरा ज्यादा होता है और यह समस्या इतनी ज्यादा हो गई है हर परिवार से कोई न कोई इन्सान पीड़ित है

हार्ट रोग के मुख्य लक्षण

कमर,जबड़ा,या पेट में बचैनी महसूस होना!
अचानक अगर सीने में दर्द दिल का दौरा पड़ने का संकेत हो सकता है!

लगातार सांसे टूटने की अत्यधिक तीव्र तकलीफ दिल के दौरे की निशानी होती है लेकिन ये भी हो सकता है अन्य हार्ट के रोगों से सम्बन्धित हो,ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर की राय ले!
चक्कर आना साँस की तकलीफ ठंडा पसीना या अन्य चीज़े भी इस बीमारी लक्षण हो सकते है!

ऐसे रखे अपने दिल का ख्याल

दिल की बीमारियों से बचने का अच्छा तरीका है आवला इसे आप पाउडर के रुप मे भी ले सकते है या ताज़ा भी ले सकते है !
दिल की बीमारियों से बचना है तो अपने खान पान पर ध्यान दे,मौसमी फल सब्जी फ्रूट्स सलाद पनीर ये सभी चीज़े का प्रयोग कर सकते है हप्ते में कम से कम दो या चार बार सर पर तेल का मालिश करे और कम से कम हप्ते में एक बार पुरे बॉडी पर तेल का मसाज़ करे यह आपको रोगों से बचाएगा.

एशिया कप 2018,मलिंगा की धमाकेदार वापसी

मुंबई TYOHARTOP.COM|एशिया कप 2018 में पहले दिन ही जबरदस्त नजारा देखने को मिला.श्रीलंका के अनुभवी तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने वनडे इंटरनेशनल मैच जबरदस्त वापसी की है एशिया कप 2018 के पहले ही मैच में पैतीस बर्षीय लसिथ मलिंगा ने जबरदस्त कामयाबी हासिल की,एक बार फिर से अपना दम दिखा दिया,मलिंगा ने बांग्लादेश के खिलाफ 4 विकेट लेकर एक खास उपलब्धि हासिल कर लिया!लसिथ मलिंगा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में लगभग एक साल बाद वापसी की है इसके साथ ही मलिंगा एशिया कप इतिहास में सबसे अधिक विकेट लेने वाले की लिस्ट में दुसरे नंबर पर आ गये है साभार गूगल उन्होंने ने अपने ही देश के अजन्ता मेंडिस को पीछे छोड़ते हुए ये उपलब्धि हासिल की है|आपको हम बता दे अभी तक मेंडिस के नाम एशिया कप में 26 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज था लेकिन लसिथ मलिंगा ने 4 विकेट लेकर अपने विकेटों की संख्या 28 पंहुचा दी है इस लिस्ट में अभी सबसे टॉप पर जो नाम है वो है मुथैया मुरलीधरन का जिनके नाम 24 मैचों में 30 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है पाकिस्तान के पूर्व आँफ स्पिनर सईद अजमल 12 मैचों में 25 विकेट और श्रीलंका के पूर्व पेसर चमिंडा वास 19 मैचों में 23 विकेट लेकर चौथे और पाचवे पायदान पर है! फोटो साभार गूगल

मैच के पहले ही ओवर में शाकिब और दास को पवेलियन भेजा
लसिथ मलिंगा ने मैच के पहले ओवर में ही कारनामा कर दिखाया,और अपने पहले ओवर के पांचवी गेंद पर ओपनर लिट्टन दास को और छठी गेंद पर शकीब अल हसन को वापस पवेलियन का रास्ता दिखा दिया ! दोनों खाता भी नहीं खोल पायें मलिंगा ने अपना तीसरा शिकार मोहम्मद मिथुन के रूप में किया जबकि उनका चौथा शिकार मोसैदक हुसैन बने |

राबिनहुड आर्मी |गरीबो के लिए मसीहा.सितारा होटलों का खाना पंहुचा रही गरीबो तक

मुंबई|दोस्तों हमारे देश में अभी भी काफी गरीबी है और एक सर्वे के अनुसार लगभग भारत में 19 करोड़ लोग भूखे सो जाते है|शायद यह हमारी बदनसीबी है और हमारी सरकारे खाली वादा करती रह जाती है दोस्तों अब हमारे देश इस प्रॉब्लम को सोल्व करने के लिए एक बन्दे ने एक ग्रुप बनाया है अब आप जानना चाहेंगे कौन सा ग्रुप है तो जनाब इस ग्रुप का नाम है राबिनहुड,जी हा और ये ग्रुप हमारे देश के लगभग 80 शहरो में अपनी सेवा कर रहा है.अब आप सोच रहे होंगे,कौन है बंदा जिसने इस नेक काम की शुरुवात की उसका नाम है नील घोष,बंदा काफी हैंडसम है और अगर आपको नहीं बिश्वाश तो kbc का 14 सितम्बर का एपिसोड देख लीजिये.पूरी जानकारी मिल जायेंगी|ये लोग शहरो के सितारा होटलों में जाते है उनसे रिक्वेस्ट करते है की कृपया बचा हुवा खाना वेस्ट नहीं होने दे वो हमें देदे |उसके बाद ये खाना लोग गरीबो के पास पहुचाते है|अभी तो इनका ग्रुप काफी बड़ा हो चूका है इसमें अभी कई सितारा होटल वाले भी अपनी मदद कर रहे है अभी इस ग्रुप में कई सितारे भी अपना योगदान दे रहे है 14 सितम्बर को kbc का कर्मवीर एपिसोड में काजल और नील घोष आये थे और उन्होंने 6,40000 जीता

साभार instagram
rabihnood army

गणेश चतुर्थी में फेमस मावा मोदक रेसिपी.how to make mava modak

मुंबई|मावा मोदक एक ऐसी मिठाई है जो गणेश चतुर्थी के टाइम अक्सर आप महाराष्ट्र में घर घर बनते हुए देख सकते है और अगर आप गणेश चतुर्थी के टाइम महाराष्ट्र में आप है इसके मज़ा भी ले सकते है यह मिठाई बहुत ही लाजवाब होती है इसका टेस्ट भी लाजवाब होता है अरे अरे रुकिए आप के मुह में पानी आ रहा है तो हम आपको बता दे ये बनाना बहुत ही आसान है चलिए हम आपको इसकी रेसिपी के बारे में फटाफट बता देते है सामग्री खजूर एक कप बीज निकाल के,बादाम 12-14,काजू 12-14,अखरोट 10-12-पिस्ता 10-12 किशमिश 20-25,सुखा हुवा नारियल 2 टेबलस्पून कदूकस किया हुवा,खसखस 1 टेबलस्पून, घी 2 टेबलस्पून बिधि

एक कडाही को गर्म कर ले सबसे पहले काजू बादाम पिस्ता डालकर उसे धीमी आंच पर भुनकर गोल्डन कलर कर ले और उसे एक बर्तन में अलग रख ले.फिर उसी कड़ाही में नारियल और खसखस को भी धीमी आंच पर भुन ले|इसे भी अलग बर्तन में रख दे और ठंडा होने दे.अब सभी भुने हुए चीजों को ठंडा होने के बाद ग्राइंडर में डाल कर पिस ले अब यह एक पाउडर के रूप में तैयार हो जायेगा|अब कडाही में एक टेबलस्पून घी डाले और किशमिश और खजूर को भुन ले धीमी आंच पर!और इसे भी ठंडा होने दे,जब यह ठंडा हो जाये तो इसे भी पीसकर पेस्ट बना ले ! अब एक बड़ा सा कटोरा ले और ये सारे चीजों को मिक्स कर ले और आटे की तरह गूथे|फिर मोदक के मोल्ड में घी लगाकर थोडा चिकना कर ले,अब जो मिक्सर आपने बनाया है उसको छोटे छोटे गोले का आकर देदे|फिर उसे मोल्ड में रखकर अच्छी तरह से चारो ओर से प्रेस कर लीजिये|बाहर निकला हुवा एक्स्ट्रा मिक्सर निकाल ले.फिर धीरे से मोल्ड को खोलकर मोदक निकाल ले,इसी तरह बाकी के मोदक बनाले और गणपति को भोग लगाये ,खुद भी इस लाजवाब टेस्ट का मज़ा ले |

हिंदी दिवस |क्या आप जानते है क्यों मनाया जाता है ?do you know?

मुंबई|क्या आप जानते है आज 14 सितम्बर है आज हम हिंदी दिवस मनाते है,पर आपको ये पता नहीं होगा की हम हिंदी दिवस क्यों मनाते है,तो चलिए tyohartop.com आपके लिए लाया है यह रोचक खबर!14 सितम्बर 1949 को संबिधान सभा ने यह निर्णय लिया था की हिंदी ही भारत की राजभाषा होगी|इस महत्वपूर्ण निर्णय के महत्व को प्रतिपादित करने और हिंदी को हर छेत्र में प्रसारित करने के लिए बर्ष 1953 से भारत में हर साल 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है क्या आप जानते है दुनिया भर में करीब 55 करोड़ लोग हिंदी भाषी है देश के बाहर पाकिस्तान बांग्लादेश नेपाल में भी हिंदी भाषा बोली जाती है आज हम आपको बताएँगे हिंदी के बारे कुछ रोचक बातें जो शायद ही आपको पता हो

हिंदी दिवस

हिंदी के शब्दों, ‘अच्छा’,’बड़ा दिन’,’सूर्य नमस्कार’,को आक्सफोर्ड डिक्शनरी में शामिल किया गया है देश भर में हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार के लिए नागपुर में 10 जनवरी 1975 को नागपुर में विश्वहिंदी सम्मलेन रखा गया था.जिसमे 30 देशो से 122 प्रतिनिधि शामिल हुए थे|2006 के बाद से पुरे विश्व में विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है

– 14 सितम्बर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया था इसलिए 14 सितम्बर को देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है! शायद आप जानते नहीं होगे विश्व के 176 विश्वविद्यालय में हिंदी एक विषय के तौर पर पढाई जाती है,दक्षिण प्रशांत महासागर के मेलोनाशिया में बसा एक द्विप देश है फिजी जहा पर हिंदी को अधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया है,यहाँ पर भोजपुरी अवधी तथा भारत में बोले जाने वाली अन्य भारतीयों का समावेश है इस हम फिजी हिन्दुस्तानी भाषा भी कहते है!

गणेश चतुर्थी 2018|इस मंदिर के दर्शन के बिना अधूरा है गणपति का त्यौहार

मुंबई|आज हम बात करेंगे पुणे के दगडू सेठ हलवाई मंदिर की | महाराष्ट्र में खासकर पुणे में रहने वाले लोगो की इस में काफी आस्था है.पुणे की जनता की अगर हम बात करे तो वह के लोगो का कहना है इस मंदिर के दर्शन के बिना दर्शन सफल ही नहीं होता!यह मंदिर सोने से सजा है और करीब 125 साल पुराना है अगर आप पुणे में किसी भी ब्यक्ति से इस मंदिर के बारे में पूछे तो आपको जरुर बतायेगा,आपकी उत्सुकता बढ़ जाएगी.

दगडू सेठ हलवाई गणपति
कहा जाता है दगडू सेठ पुणे में मिठाई बनाने का कम करते थे उनका बिजनेस काफी ज्यादा चलता था,एक दिन प्लेग की बजह से उनके बेटे की मौत हो गई| वह अब काफी परेशां रहने लगे थे तभी पुणे के एक संत ने उन्हें गणेश जी का मंन्दिर बनाने को कहा,फिर उन्होंने अपने शहर के शांति के लिए इस मंदिर का निर्माण कराया|इसकी लोकप्रियता बढ़ने पर लोकमान्य तिलक ने यहाँ पर भब्य बिशाल गणपति महोत्सव का आयोजन किया|

चलिए हम आपको मंदिर का पता भी देते है है ताकि इस गणपति आपका दर्शन भी सफल हो जाये पता है इस मंदिर पर पहुचना बहुत आसान है आप कही भी हो वायु मार्ग द्वारा ट्रेन द्वारा आसानी से पहुच सकते है रेलवे स्टेशन से इसकी दुरी 5 km है और एअरपोर्ट से 12 km है मंदिर का पता है गणपति भवन,२५०,बुधवार पेठ,शिवाजी रोड पुणे महाराष्ट्र 411002

INDIA VS ENGLAND TEST हार के बाद भी कोहली ने किया अपनी टीम का बचाव,अपनी टीम और कूक के लिए कही ये बात

मुंबई | भारतीय टीम 4-1 से सीरीज हर गई है पर बिराट कोहली ने अपनी टीम का बचाव किया है                                                                     Ind vs Eng: बल्‍लेबाज विराट कोहली तो चमके लेकिन कप्‍तानी में नहीं दिखी ऐसी चमक... लन्दन में भारतीय टीम भले ही 4 -0 से सीरीज हर गये हो पर कप्तान साहब अपनी टीम का बचाव करते दिखे|कप्तान साहब ने कहा उनकी टीम भले ही इस सीरीज को 4-1 से हार गई पर इसका मतलब यह नहीं है की हमारी टीम ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया!आखिरी टेस्ट मैच हारने के बाद कोहली ने कहा,की 4-1 का स्कोर लाइन उनकी टीम के ठीक है क्योंकि इंग्लैंड ने हमसे बेहतर खेल का प्रदर्शन किया है लेकिन लार्ड्स टेस्ट मैच को छोड़कर हमने बुरा परदर्शन नहीं किया है

विराट कोहली ने कहा यह श्रृंखला काफी टक्कर का था और दोनों टीमो में जोरदार मुकाबला हुवा|भले ही हमारा खेल स्कोर बोर्ड पर नजर नहीं आया लेकिन दोनों टीम जानती है ये श्रृंखला में किस तरह का मुकाबला था|यह मैच इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टर कुक का आखरी मैच था!और भारतीय कप्तान ने उन्हें इस मौके पर शानदार क्रिकेट करियर के लिए बधाई दी.कोहली ने कहा, आपका करियर बेहतरीन रहा है भविष्य के लिए आपको शुभकामनाये

वही कुक ने कहा उनका मैच इससे बेहतरीन नहीं हो सकता था,क्योंकि उनका यह लास्ट मैच था और उनके लिए यह शानदार रहा|ऐसा जिसके बारे में सोच नहीं सकते थे जीत में इंग्लैंड के लिए योगदान देना और श्रृंखला 4-1 से जितना शानदार था”कुक ने कहा ये पल उनके लिए शानदार था “कुक्क ने कहा ये शानदार पल थे,दुखद पल थे,इतनी कड़ी मेहनत और तनाव मुझे इसकी कमी नहीं खलेगी.लेकिन अपनी टीम के साथ खेलना,पुरस्कार और क्रिकेट के बड़े पल जरुर याद आयेंगे.यह मेरे लिए शानदार पल रहा अब मै सर उठाकर जा सकता हूँ.

लालबाग के राजा का फर्स्ट लुक 2018 LALBAG RAJA ‘S’ FIRST LOOK CHEKOUT 2018

मुम्बई|लाल बाग़ के राजा मुंबई के सबसे अधिक लोकप्रिय गणेश मंडल है सार्वजनिक गणेश मंडल की स्थापना बर्ष 1934 में हुई थी |यह मुबई के लालबाग, परेल इलाके में स्थित है यहाँ पर लोग भगवन गणेश के दर्शन के लिए लम्बी लाइन में लगते है आज यहाँ पर हालत यह है की लालबाग के राजा का दर्शन करना ही अपने आप में भाग्यशाली है यहाँ पर लोग मन्नते मागते है और बहुत से लोग की मन्नते यहाँ पूरी हो जाती है !

लालबाग के राजा 2018

लाल बाग़ के राजा इतने प्रसिद्ध है यहाँ जो चढवा चढ़ता है 20 से  25 करोड़ में होता है ! यह गणेश मंडल अपने 10 दिन के समारोह में कम से कम लाखो लोगो को  आकर्षित करता है !यहाँ पर लाल बाग़ के राजा को नवसाचा गणपति यानि इच्छाओं की पूर्ति गणेश जी रूप में जाना जाता है |यहाँ हर जो है तक़रीबन 5 किलोमीटर लम्बी कतार लगती है दर्शन के लिए !यहाँ पर दसवे दिन लालबाग के राजा का मूर्ति बिसर्जन गिरगाव चौपाटी में किया जाता है |                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                      लालबाग के रजा के यहाँ चढ़ावे में आई रकम बहुत से  सामाजिक कार्यो में लगाया जाता है इस मंडल के कई अस्पताल और एम्बुलेंस है जहा पर गरीब लोगो का मुफ्त इलाज किया जाता है